Running Shaadi Movie Reviews In Hindi | Running Shaadi Movie Reviews

0
68

Running Shaadi Movie Reviews In Hindi: बेशक, अक्षय कुमार के साथ ‘बेबी’ में एक छोटा सा किरदार करने का तापसी पन्नू को खास फायदा न मिला हो, लेकिन बिग बी के साथ बनी तापसी की फिल्म ‘पिंक’ की कामयाबी के बाद बॉलिवुड में तापसी की वैल्यू कहीं ज्यादा बढ़ी है। पिंक बॉक्स ऑफिस पर जबर्दस्त हिट रही, क्रिटिक्स और दर्शकों ने इस फिल्म की कामयाबी का क्रेडिट बिग बी के साथ तापसी की बेहतरीन ऐक्टिंग को दिया। फिलहाल, इस शुक्रवार तापसी की दो फिल्में रिलीज हुईं। दो फिल्मों की इन दिनों शूटिंग जारी है, एक फिल्म बनकर तैयार है। तापसी स्टारर यह फिल्म भी करीब तीन साल पहले बनी, उस वक्त फिल्म का टाइटल ‘रनिंग शादी डॉट कॉम’ रखा गया, Running Shaadi Movie Reviews In Hindi लेकिन अब जब फिल्म रिलीज़ हुई तो टाइटल में से डॉट काम गायब हो गया। तापसी की इस फिल्म में मेकर ने एक डिफरेंट सोच के साथ एक मजेदार सब्जेक्ट तो चुना, लेकिन कमजोर स्क्रिप्ट और कहानी में झोलझाल के चलते यह रनिंग शादी बॉक्स ऑफिस पर टिक पाएगी इसके आसार कम ही नजर आ रहे हैं।

हमारी रेटिंग – 2.5 / 5

पाठकों की रेटिंग – 2 / 5

1. कलाकार (The artist) – तापसी पन्नू, अमित साध, अर्श बाजवा ,ब्रिजेंद्र                                                                 काला, पकंज झा, नीना सिंह

2. निर्देशक (the director) – अमित रॉय

3. मूवी प्रकार (Movie type) – Romantic Comedy

4. समय (Time) – 1 घंटा 55 मिनट

कहानी (story)

अमृतसर के मेन बाजार में ‘सिंह ऐंड सिंह’ नाम से एक गारमेंटस शॉप है, इस शॉप के प्रॉपराइटर सिंह साहब की इकलौती बेटी निम्रत कौर उर्फ निम्मी (तापसी पन्नू) अपने पापा की शॉप में काम करने वाले सेल्समैन राम भरोसे (अमित साध) के साथ कुछ ज्यादा ही घुली-मिली हुई है। निम्मी और राम अक्सर एकसाथ घूमने जाते हैं, इतना हीं नहीं निम्मी अपनी सभी बातें राम के साथ शेयर करती है। बिहार के पटना शहर का रहने वाला राम कभी अमृतसर की सड़कों पर रिक्शा चलाया करता था, लेकिन निम्मी के पापा ने उसे अपनी शॉप में काम पर रख लिया। राम दिल ही दिल में निम्मी को पसंद करता है, लेकिन अपनी बात कभी जुबां पर नहीं लाता। किसी बात को लेकर राम और निम्मी के पापा के बीच टकराव हो जाता है और वह राम को नौकरी से निकाल देते हैं। अब राम अपने खास दोस्त सरबजीत सिंह उर्फ साइबर जीत सिंह (अर्श बाजवा) के साथ मिलकर ऐसे प्रेमी जोडों की शादी कराने के लिए वेबसाइट बनाता है। राम और साइबर अपनी रनिंग शादी डॉट कॉम के माध्यम से अब तक 49 मैरिज करा चुके हैं। कहानी में टर्न उस वक्त आता है जब निम्मी इनके पास अपनी शादी कराने के लिए आती है। निम्मी अपने बॉयफ्रेंड शंटी के साथ शादी करना चाहती है जो इनकी फैमिली को मंजूर नहीं। यहीं से शुरू होता है निम्मी, राम और साइबर के भागने का सिलसिला। अमृतसर से डलहौजी होते हुए के बाद पटना के बाद फिर अमृतसर आकर खत्म होता है।

1. निर्देशन (Directing)

  • समझ नहीं आता डायरेक्टर ने टाइटल में से डॉट कॉम को क्यों निकाला, जबकि पूरी फिल्म इसी के आसपास घूमती है। टाइटल के चक्कर में कई सीन में से आवाज गायब हो गई है। पंजाबी का प्रयोग तो डायरेक्टर ने जमकर किया, लेकिन फिल्म का पटना से आया हीरो अपनी भाषा में कम ही बोलता नजर आया। हां, पंजाब, डलहौजी और पटना की रियल लोकेशन पर की गई शूटिंग फिल्म का प्लस पॉइंट है। इंटरवल के बाद कहानी ट्रैक पर लौटती है, लेकिन उस वक्त तक बहुत देर हो चुकी होती है।

2. ऐक्टिंग (Acting)

  • अमित साध और तापसी के बीच अच्छी केमेस्ट्री है, तापसी के बोलने का अंदाज स्टार्ट टू लॉस्ट टिपिकल पंजाबी है तो वहीं अमित साध अपने किरदार को बिहारी युवक जैसा रंग नहीं दे पाए। राम के खास दोस्त सायबर सिंह के किरदार में अर्श बाजवा ने अच्छा काम किया है।

3. संगीत (Music)

  •  प्यार का टेस्ट गाने का फिल्मांकन अच्छा है|

तापसी के पक्के फैन हैं तो इस बार उनका ठेठ पंजाबी लुक देखने के लिए इस शादी में शरीक हो सकते हैं, वर्ना फिल्म में ऐसा कुछ नहीं जो हम आपको फिल्म देखने की सलाह दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here