1. मैं वचन देता हूं भाई होने का फर्ज निभाऊंगा

नोएडा: ‘दुनिया की हर खुशी तुझे दिलाऊंगा मैं, अपने भाई होने का फर्ज निभाऊंगा मैं’। अपनी बहन के लिए हर भाई की यही चाहत होती है। बहन भी भाई से ऐसी ही उम्मीद करती है। आज रक्षाबंधन है। बहनें अपने भाई को राखी बांधकर रक्षा का वचन लेती हैं। भाई भी इस वचन का मान रखते हुए हर मोड़ पर बहन का साथ देते हैं। शहर में कुछ ऐसे भाई हैं, जिन्होंने मुश्किल हालात में बहनों का हाथ नहीं छोड़ा। उन्हें सहारे की जरूरत पड़ी तो ढाल बनकर सामने खड़े हो गए।

1- भाई ने बसाया उजड़ा आशियाना

सेक्टर-11 में रहने वाली अंजना 2014 में दिल्ली के मयूर विहार में रहती थीं। अंजना का कहना है कि बिना नोटिस दिए एमसीडी ने उनका घर तोड़ दिया। परिवार उस समय वहां मौजूद नहीं था। वह लौटीं तो घर टूटा मिला। यह देख चक्कर खाकर गिर गईं। उनके भाई अनिल को इसका पता चला तो वह तुरंत पहुंचे। बहन का आशियाना उजड़ा देख उन्हें अपने घर भेजा और अगले हफ्ते से ही घर दोबारा बनवाना शुरू किया और पूरा मकान तैयार करवाया।

2- मायशा खान सृजन के साथ मनाती हैं रक्षाबंधन

सेक्टर-61 के सल्तनत खान की 14 साल की बेटी मायशा के दो भाई हैं। अफराज और सृजन त्यागी। अफराज मायशा के सगे भाई हैं और सृजन से उनका राखी का नाता है। यह नाता धर्म के बंधनों से परे है। मायशा अफराज के साथ-साथ हर साल सृजन को भी राखी बांधती हैं। यह सिलसिला स्कूल में राखी बांधने से शुरू हुआ। इसके बाद मायशा के मन में इस त्योहार को मनाने की इच्छा जागी। सृजन मायशा के साथ ही डीपीएस में पढ़ते हैं।

3- भाई ने दी नई जिंदगी

2006 में सेक्टर-25 में रहने वाली अल्का के शरीर में प्लेटलेट्स कम हो गईं। उनका ब्लड ग्रुप ओ निगेटिव है। इस वजह से कहीं से प्लेटलेट्स का इंतजाम नहीं हो पा रहा था। उनकी हालत गंभीर होते देख भाई अरुण ने हर जगह संपर्क करना शुरू किया। वह अपने आफिस में काम करने वाले हर व्यक्ति तक पहुंचे और ओ निगेटिव ग्रुप के ब्लड का इंतजाम कराया। अल्का कहती हैं कि भाई की वजह से ही उन्हें नया जीवन मिला है।

…बहनें भी करती हैं रक्षा

भाई की दोनों किडनी फेल हुईं तो बहन ने दे दी

बहनें अपने भाई को रक्षासूत्र बांधने के साथ वक्त आने पर उनकी रक्षा भी करती हैं। सेक्टर-62 के फोर्टिस अस्पताल में पिछले साल ऐसा ही एक मामला सामने आया था। प्रतापगढ़ के रहने वाले राजेश कुमार की दोनों किडनी डायबिटीज की वजह से फेल हो गईं। उनकी हालत लगातार खराब हो रही थी। ऐसे में राजेश की बहन पूनम श्रीवास्तव ने उन्हें एक किडनी दी। राजेश का कहना है कि इसके लिए मैं हमेशा अपनी बहन का आभारी रहूंगा।


2. कलेक्ट्रेट पर पंचायत की जेल में बंद किसानों की रिहाई के लिए

ग्रेनो: भारतीय किसान यूनियन ने कलेक्ट्रेट पर चल रहे धरने में शनिवार को सैमसंग कंपनी पर प्रर्दशन करने वाले किसानों की जेल से रिहाई को लेकर पंचायत की। इसकी जानकारी लगने पर डीएम बीएन सिंह किसानों के बीच आए और किसानों की रिहाई को लेकर आश्वस्त किया। डीएम ने कहा आपकी मांगे जल्द पूरी हो जाएंगी। उन्होंने किसानों से धरना खत्म करने की अपील की। प्रदेश प्रवक्ता पवन खटाना ने कहा जब तक किसानों की मांगों पर काम नहीं होगा तब तक धरना जारी रहेगा। इस दौरान बाबा लज्जाराम, सरदाराम कसाना, जीवन सिंह, पवन खटाना, सुभाष चौधरी, नरेश शर्मा , जीवन सिंह, लाला रजनीकांत और पीतम सिंह मौजूद रहे।


3. सिटी फॉरेस्ट में पेड़ काटने पर भड़के रेजिडेंट्स ने किया प्रदर्शन

नोएडा: सेक्टर-91 में बनाए जा रहे बॉयो डायवर्सिटी पार्क के विरोध में आसपास की सोसायटियों में रहने वाले लोगों ने शनिवार को प्रदर्शन किया। उनका आरोप है कि अथॉरिटी सिटी फॉरेस्ट का लैंड यूज बदलकर उसे रिक्रेएशनल पार्क के रूप में डिवेलप कर रही है। इसके लिए बड़े पैमाने पर यहां लगे पेड़ों को काटा जा रहा है। अथॉरिटी की ओर से सफेदा के पेड़ काटे जाने की बात कही जा रही है लेकिन इनकी आड़ में सभी तरह के पेड़ काटे जा रहे हैं। नीम के पेड़ काटने पर वन विभाग ने अथॉरिटी के खिलाफ केस भी दर्ज कराया है।

‘काट दिए 3 हजार पेड़’

अपने आसपास का जंगल उजड़ता देख आसपास के लोग शनिवार को बड़ी संख्या में सेक्टर-93 बी की ओमैक्स स्पा सोसायटी के बाहर इकट्ठे हुए और प्रदर्शन करते हुए मौके पर पहुंचे। प्रदर्शन के दौरान काफी संख्या में बच्चे और बुजुर्ग भी पोस्टर-बैनर लेकर मार्च में शामिल हुए। लोगों का कहना है कि यह सिटी फॉरेस्ट करीब 75 एकड़ में सेक्टर-92, 93, 136, 137 समेत कई सेक्टरों में फैला है। प्रदर्शन में शामिल सेक्टर-93 में रहने वाले हेमंत ने बताया कि 2021 के नोएडा मास्टर प्लान में यह इलाका सिटी फॉरेस्ट के रूप में चिह्नित है। 2031 के मास्टर प्लान में इसे रिक्रिएशनल पार्क में बदल दिया गया है। पिछले दो महीने से यहां पेड़ काटे जा रहे हैं। इस पार्क में एंफी थिएटर, एक बहुउद्देशीय हॉल, फूड कोर्ट, फव्वारे और दो तालाब बनाए जाने हैं। इसके लिए अब तक तीन हजार पेड़ काटे जा चुके हैं, जबकि छह हजार पेड़ और काटे जाने हैं। इसके लिए सफेदा के पेड़ों की उम्र पूरी हो जाने का बहाना बनाया जा रहा है। पेड़ों के कटने से यहां की वाइल्ड लाइफ खत्म होती जा रही है। यहां पर 50 अलग-अलग प्रजातियों के जानवर व पक्षी थे। पेड़ काटे जाने से अब सब लापता हो गए हैं।

‘कोर्ट और एनजीटी जाएंगे’

सेक्टर-93 निवासी गुनीत औलख के अनुसार, नोएडा में पहले से कई बड़े पार्क हैं। उन्हीं का ठीक से रखरखाव नहीं हो रहा है। जंगल के पेड़ों से जो ऑक्सीजन मिलती है, वह पार्क नहीं दे सकता। पार्क जंगल की जगह कभी नहीं ले सकता है। लिहाजा उनकी मुख्यमंत्री से मांग है कि पेड़ काटे जाने पर तुरंत प्रभाव से रोक लगाई जाए। फॉरेस्ट एरिया में किसी तरह के निर्माण को रोका जाए और इसे रिजर्व फॉरेस्ट बना दिया जाए। जितने पेड़ों को अब तक काटा गया है, उतने ही तुरंत लगाए जाएं। गुनीत के अनुसार अगर उनकी मांगों पर कार्रवाई नहीं हुई तो वह कोर्ट और एनजीटी का दरवाजा भी खटखटाएंगे।

वर्जन

इस पार्क को 48 करोड़ रुपये की लागत से अगले छह महीने में तैयार किया जाएगा। यह दिल्ली-एनसीआर का बेहतरीन पार्क होगा। कई साल पहले जमीन पर अतिक्रमण कर कब्जा करने से रोकने के लिए यहां सफेदा के पेड़ लगाए गए थे। अब उनकी उम्र भी पूरी हो चुकी है। इन्हें चरणबद्ध तरीके से हटाया जा रहा है। सफेदे के अलावा और कोई पेड़ यहां नहीं काटे गए हैं।


4. रेप के बाद हलाला के लिए दबाव बना रहा ससुर

जेवर: जेवर कोतवाली क्षेत्र में एक महिला ने अपने ससुर पर हलाला के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाया है। आरोप है कि ससुर पीड़िता के साथ रेप भी कर चुका है। इसकी शिकायत करने पर पीड़िता के पति ने उसे मायके में फोन कर तीन बार तलाक कह दिया था। वहीं इसके कुछ दिन बाद पति के भाई ने पीड़िता की छोटी बहन को भी इसी तरह तलाक दे दिया था। पीड़िता ने मामले की शिकायत जेवर कोतवाली पुलिस से की है। हालांकि पुलिस ने अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया है। पीड़िता का आरोप है कि ससुर पहले उसकी जेठानी के साथ भी हलाला कर चुका है।


5. किसानों की मुआवजे, नौकरी समेत सभी मांगें अथॉरिटी ने मानीं

ग्रेटर नोएडा: जेवर एयरपोर्ट बनने के आसार नजर आने लगे है। यमुना अथॉरिटी के चेयरमैन और सीईओ ने किसानों के मुआवजे, आबादी, नौकरी समेत सभी मांगें मान ली हैं। किसानों को 23 लाख रुपये प्रति बीघा मुआवजा, जिस जमीन पर किसान बसे है उसकी 50 प्रतिशत जमीन विकसित करके दी जाएगी। जमीन पर बने मकानों की दो गुना कीमत दी जाएगी। किसानों के बच्चों को योग्यता के अनुसार एयरपोर्ट पर नौकरी मिलेगी। अब तक 450 किसान 350 हेक्टेयर जमीन देने के लिए सहमति दे चुके हैं। पहले चरण में 850 हेक्टेयर जमीन किसानों से ली जानी है। यह जानकारी यमुना अथॉरिटी चेयरमैन डॉ. प्रभात कुमार और सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने शनिवार को जीबीयू में दी।

उन्होंने बताया कि जेवर एयरपोर्ट के लिए जमीन लेने को लेकर 23 अगस्त को जीबीयू में 6 गांवों के किसानों के साथ मीटिंग की थी। जेवर नगर पंचायत के पास किसानों को बसाने के लिए जमीन चिह्नित कर ली गई है। जिस जगह किसानों को बसाया जाएगा उस को सेक्टर से भी बेहतर विकसित किया जाएगा। यहां हॉस्पिटल, पार्क, खेल का मैदान, कम्युनिटी सेंटर, स्कूल, सीवर, सीसी रोड, स्ट्रीट लाइट, पेयजल, मार्केट समेत तमाम सुविधा उपलब्ध कराई जाएंगी। विकसित होकर मिलने वाली जमीन की रजिस्ट्री में लगने वाला स्टांप शुल्क भी नहीं लगेगा। जो किसान सबसे कम जमीन पर बसा है उसे कम से कम 40 वर्ग मीटर का प्लॉट दिया जाएगा। किसानों को 31 अगस्त तक सहमति से जमीन देने के लिए फॉर्म 5ए में भरकर देना है। किसानों की बगैर सहमति के एक इंच भी जमीन नहीं ली जाएगी।


6. एसएसपी ने 100 नंबर पर दी सफारी लूट की सूचना

नोएडा: पुलिस की चुस्ती जांचने के लिए किए गए एसएसपी के मॉक टेस्ट की वजह से नोएडा पुलिस शुक्रवार रात भर भागती रही। एसएसपी डॉ़ अजयपाल शर्मा ने वायरलेस पर सूचना प्रसारित करवाई कि गॉल्फ कोर्स के पास आई-20 कार सवार बदमाशों ने सफारी कार लूटने का प्रयास किया है। पीड़ित ने कार की चाभी नहीं छोड़ी और बदमाशों से भिड़ गया। इस छीना-झपटी में कार की चाभी टूट गई। इसके बाद बदमाश भंगेल की ओर निकल गए। उनकी सूचना पर थाना सेक्टर 39, 49 और फेज टू पुलिस ने गॉल्फ कोर्स से लेकर भंगेल तक घेराबंदी कर दी। थाना सेक्टर-39 पुलिस गॉल्फ कोर्स पहुंची तो वहां उन्हें न कार मिली और न ही पीड़ित। एसएचओ अमित कुमार सिंह ने बताया कि एसएसपी ने टेस्ट लिया था। वह वायरलेस पर लूट की सूचना देकर पुलिस की टाइमिंग चेक करना चाहते थे।


7. घर जाने के लिए बसों की छत पर बैठकर की यात्रा

ग्रेटर नोएडा: ग्रेटर नोएडा स्थित परी चौक पर शनिवार को पूरे दिन जाम की स्थिति बनी रही। बाद में जाम को देखते हुए पुलिस को रूट डायवर्ट करना पडा।

रक्षाबंधन पर बस से घर जाने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पडा। सीट न मिलने की वजह से कुछ यात्रियों को बस की छत पर सफर करना पडा। सबसे अधिक परेशानी महिलाओं और बच्चों को हुईं। दोपहर से ही बसों में भीड़ बढ़ने लगी। कई बसों की छत से रोडवेज डिपो प्रबंधन ने लोगों को नीचे भी उतारा, लेकिन भीड़ इतनी थी कि छत पर यात्रा करना उनकी मजबूरी थी। वहीं भीड़ को देखते हुए परिवार के साथ आए लोग बस के लिए घंटों इंतजार करते रहे।


8. लूट की घटना में एसएसपी का कहन

शुक्रवार देर रात में पुलिस की मुश्तैदी की जांच के लिए की गई टेस्ट रिपोर्ट में सबसे अच्छा प्रदर्शन थाना सेक्टर-39 पुलिस का रहा। पुलिस 4 मिनट में मौके पर पहुंच गई। ग्रेटर नोएडा के थानों का प्रदर्शन खास अच्छा नहीं रहा। वहीं, लूट की वारदात में 2 वाहन लूटे गए हैं। अन्य को बरामद कर लिया गया है। शिकायतों को आधार पर पुलिस लूटपाट करने वाले बदमाशों को जल्द गिरफ़्तार करने का प्रयास कर रही है।

डॉ अजयपाल शर्मा- एसएसपी गौतमबुद्ध नगर


9. दो पक्षों में मारपीट, 6 घायल

दादरी: दादरी कोतवाली एरिया के कोट गांव में पुरानी रंजिश के चलते दो पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चले। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दी है। वहीं, पुलिस ने दोनों पक्षों के 6 लोगों को हिरासत में ले लिया है।

कोट गांव के देशराज का आरोप है कि शुक्रवार रात फॉच्यूर्नर सवार 6 लोग घर पर आए और कोर्ट में चल रहे मुकदमे में फैसला करने का दबाव बनाने लगे। इससे इनकार करने पर परिवार के लोगों को झूठे मामले में फंसा कर एनकाउंटर कराने की धमकी देने लगे। मारपीट के दौरान शोर सुनकर पड़ोसी पहुंचे तो आरोपी मौके से फरार हो गए। वहीं दूसरी तरफ ग्राम प्रधान विपिन कुमार उर्फ सोनू का आरोप है शनिवार सुबह गांव पहुंचने पर रास्ते में कई बाइक सवार लोगों ने उनकी फॉच्यूर्नर के सामने बाइक खड़ी कर रोक लिया और मारपीट करके घायल कर दिया।

दादरी कोतवाली के एसएचओ रामसेन सिंह ने बताया कि पुरानी रंजिश को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया था। रिपोर्ट दर्ज कर एक पक्ष से 4 और दूसरे से 2 लोगों को गिरफ्तार कर एसडीएम कोर्ट में पेश किया है।


10. ‘पेड़ों की कीमत पर नहीं चाहिए पार्क’

नोएडा: सेक्टर-91 में बनाए जा रहे बॉयो डायवर्सिटी पार्क के विरोध में आसपास की सोसायटियों में रहने वाले लोग मुखर हो गए हैं। उनका आरोप है कि अथॉरिटी सिटी फॉरेस्ट का लैंड यूज बदलकर उसे रिक्रेएशनल पार्क के रूप में डिवेलप कर रही है। इसके लिए बड़े पैमाने पर यहां लगे पेड़ों को काटा जा रहा है। इसके लिए सफेदा के पेड़ काटे जाने की बात कही जा रही है लेकिन इनकी आड़ में सभी तरह के पेड़ काटे जा रहे हैं। नीम के पेड़ काटने पर वन विभाग ने अथॉरिटी के खिलाफ केस भी दर्ज कराया है।

अपने आसपास का जंगल उजड़ता देख आसपास के लोग शनिवार को बड़ी संख्या में सेक्टर-93 बी की ऑमैक्स स्पा सोसायटी के बाहर इकट्ठे हुए और प्रदर्शन करते हुए पैदल मौके पर पहुंचे।

प्रदर्शन के दौराज काफी संख्या में बच्चे और बुजुर्ग भी पोस्टर-बैनर हाथों में लेकर मार्च में शामिल हुए। लोगों का कहना है कि यह सिटी फॉरेस्ट करीब 75 एकड़ में सेक्टर-92, 93, 136, 137 समेत कई सेक्टरों में फैला है।

‘काट दिए 3 हजार पेड़’

प्रदर्शन में शामिल सेक्टर-93 में रहने वाले हेमंत ने बताया कि 2021 के नोएडा मास्टर प्लान में यह इलाका सिटी फॉरेस्ट के रूप में चिह्नित है। 2031 के मास्टर प्लान में इसे रिक्रिएशनल पार्क में बदल दिया गया है। पिछले दो महीने से यहां पेड़ काटे जा रहे हैं। इस पार्क में एंफी थिएटर, एक बहुउद्देशीय हॉल, फूड कोर्ट, फव्वारे और दो तालाब बनाए जाने हैं। इसके लिए अब तक तीन हजार पेड़ काटे जा चुके हैं, जबकि छह हजार पेड़ और काटे जाने हैं। इसके लिए सफेदा के पेड़ों की उम्र पूरी हो जाने का बहाना बनाया जा रहा है। पेड़ों के कटने से यहां की वाइल्ड लाइफ खत्म होती जा रही है। यहां पर 50 अलग-अलग प्रजातियों के जानवर व पक्षी थे। पेड़ काटे जाने से अब सब लापता हो गए हैं।

‘कोर्ट और एनजीटी जाएंगे’

सेक्टर-93 निवासी गुनीत औलक के अनुसार नोएडा में पहले से कई बड़े पार्क हैं। उन्हीं का ठीक से रखरखाव नहीं हो रहा है। जंगल के पेड़ों से जो ऑक्सीजन मिलती है, वह पार्क नहीं दे सकता। पार्क जंगल की जगह कभी नहीं ले सकता है। लिहाजा उनकी मुख्यमंत्री से मांग है कि पेड़ काटे जाने पर तुरंत प्रभाव से रोक लगाई जाए। फॉरेस्ट एरिया में किसी तरह के निर्माण को रोका जाए और इसे रिजर्व फॉरेस्ट बना दिया जाए। जितने पेड़ों को अब तक काटा गया है, उतने ही तुरंत लगाए जाएं। गुनीत के अनुसार अगर उनकी मांगों पर कार्रवाई नहीं हुई तो वह कोर्ट और एनजीटी का दरवाजा भी खटखटाएंगे।

अथॉरिटी का यह है कहना

अथॉरिटी के हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट डिप्टी डायरेक्टर महेंद्र प्रकाश ने बताया कि इस पार्क को 48 करोड़ रुपये की लागत से अगले छह महीने में तैयार किया जाएगा। यह दिल्ली-एनसीआर का बेहतरीन पार्क होगा। कई साल पहले जमीन पर अतिक्रमण कर कब्जा करने से रोकने के लिए यहां सफेदा के पेड़ लगाए गए थे। अब उनकी उम्र भी पूरी हो चुकी है। इन्हें चरणबद्ध तरीके से हटाया जा रहा है। सफेदे के अलावा और कोई पेड़ यहां नहीं काटे गए हैं।


11. ADM-कर्नल विवाद में शुरू हुआ फुटेज वॉर

नोएडा: रिटायर्ड कर्नल और एडीएम के बीच चल रहे विवाद में दोनों ओर से एक दूसरे पर आरोप लगाने के लिए सीसीटीवी फुटेज और विडियो का सहारा लिया जा रहा है। इस विवाद की वजह से सस्पेंड एडीएम की पत्नी ने खुद को पीड़ित बताते हुए लोगों से साथ देने की अपील की है। सोशल मीडिया पर जारी विडियो में एडीएम की पत्नी ने कहा कि कर्नल 4 साल से उन पर गंदी नजर रखे हुए थे। 14 अगस्त को जब उन्होंने विरोध किया तो सरेआम जातिसूचक गालियां देते हुए अपहरण की कोशिश की। इस पर पुलिस ने ऐक्शन लेते हुए कर्नल के खिलाफ केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया।


12. शहीदों के परिवारों का किया सम्मान

नोएडा: महामाया बालिका इंटर कॉलेज में शनिवार को नोएडा लोकमंच ने अपने सांस्कृतिक प्रकल्प पहला कदम की ओर से 44 शहीदों के परिवारों को राष्ट्रीय गौरव सम्मान से सम्मानित किया। इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि भी दी गई।

नोएडा लोकमंच के महासचिव महेश सक्सेना और एनईए के अध्यक्ष विपिन मल्हन ने कहा कि देश की आज़ादी के लिए बहुत से लोगों ने कुर्बानी दी है। आज हम आजाद है तो इसमें बहुत बड़ा योगदान उन शहीदों का है। रागनी गायक ब्रह्मपाल नगर, वैशाली कला केंद्र की ज्योति श्रीवास्तव, म्यूजिक्योलॉजी के अनुराग दीक्षित और दीपक श्रीवास्तव ने देशभक्ति से भरे कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर महेश सक्सेना, फोनरवा के एन पी सिंह, नोएडा एम्प्लाइज असोसिएशन के कुशलपाल, एस सी जैन, पीयूष मंगला आलोक गुप्ता, नीतू शर्मा मौजूद रहे। कार्यक्रम के आयोजन में नोएडा एंटरप्रिन्योर असोसिएशन, फोनरवा और नोएडा एम्प्लाइज असोसिएशन का विशेष सहयोग रहा।


13. बच्चों ने स्वतंत्रता सेनानियों को दी श्रद्धांजलि

ग्रेटर नोएडा: ग्रेनो स्थित पैसिफिक वर्ल्ड स्कूल में शनिवार को स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि देने के लिए भारत के वीर कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इस दौरान सीआईएसएफ के अतिरिक्त महानिरीक्षक सुमंत सिंह मुख्य अतिथि रहे। इसके अलावा स्कूल की डायरेक्टर और डीपीएस इंदिरापुरम की प्रिंसिपल मीता राय भी मौजूद रहीं।

इस दौरान प्री-नर्सरी के छात्रों ने स्वतंत्रता संग्राम की महत्वपूर्ण घटनाओं का प्रदर्शन किया। स्कूल की वाइस चेयरमैन निधि बंसल ने कहा कि छात्रों को भारत के लिए बलिदान देने वाले वीरों की गाथाओं से परिचित होना चाहिए।


14. लुक्सर जेल में लगा विधिक जागरूकता शिविर

ग्रेनो: लुक्सर गांव स्थित जिला कारागार में शनिवार को विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। यह शिविर न्यायाधीश नीलू मेनवाल की अध्य्क्षता में संपन्न हुआ। कारागार में बंदियों को उनके विधिक अधिकारों के संबंध में जानकारी दी गई। उनको जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से मिलने वाले लाभ व कानूनों के बारे में समझाया गया। इस मौके पर जेल अधीक्षक व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।


15. रिश्तेदार पर जलाने की कोशिश का आरोप

नोएडा: ग्रेटर नोएडा में रहने वाले एक व्यक्ति ने सेक्टर-44 निवासी रिश्तेदार पर मारपीट और मिट्टी का तेल छिड़ककर जलाने की कोशिश का आरोप लगाया है। पीड़ित का आरोप है कि उसके उधार दिए हुए 12 लाख रुपये नहीं देने के लिए वह उसे मार देना चाहता है। पीड़ित की शिकायत पर थाना सेक्टर 39 पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ग्रेटर नोएडा के सिग्मा सेक्टर में रहने वाले सुनील अपना बिजनेस करते हैं। सुनील के मुताबिक चार साल पहले उस रिश्तेदारों ने नोएडा में कंपनी खोलने के नाम पर उनसे 12 लाख रुपये उधार लिए थे। इसके बदले में उन्हें कंपनी में पार्टनर बनाने की बात कही थी। इसके बाद कंपनी खोली गई न ही पैसा वापस दिया गया। अब वह पैसे वापस मांग रहे हैं लेकिन आरोपित धनराशि नहीं लौटा रहे हैं। शनिवार को वह अपना पैसा मांगने के लिये सेक्टर-44 गए थे। तभी उन्होंने उनके साथ मारपीट करते हुए मिट्टी का तेल छिड़क कर जलाने की कोशिश की। एसएचओ अमित कुमार सिंह ने बताया कि मामले की शिकायत मिली है। पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है।


16. इन बुजुर्गों के लिए टीस लेकर आते हैं त्योहार

नोएडा: सेक्टर-56 स्थित ओल्ड एज होम में रहने वाले बुजुर्ग अपना परिवार होते हुए भी आज अनजानों के साथ रक्षा बंधन मनाएंगे। हिमाचल प्रदेश की बिमला ठकराल (75) के 1 बेटा और 2 बेटी हैं। तीनों शादीशुदा हैं। बेटा परिवार के साथ दिल्ली में रहता है। शादी के बाद घर में पत्नी और मां के बीच विवाद हुआ तो मां को ओल्ड एज होम में छोड़ गया। इसी तरह पटना की सरस्वती जायसवाल (86) का बेटा परिवार के साथ ग्रेटर नोएडा में और बेटी नोएडा के सेक्टर-26 में रहती है। घर में बहू की ओर से किच-किच होने लगी। बेटी ने मां को साथ रहने के लिए कहा लेकिन स्वाभिमानी सरस्वती ने इनकार कर दिया। इसके बाद उन्हें ओल्ड एज होम में छोड़ दिया गया।

दिल्ली के विवेक विहार में रहने वाले एक सिख बुजुर्ग अपना नाम नहीं बताते। वे एयरफोर्स से रिटायर्ड हैं। उनके दो बेटे और एक बेटी है। रिटायरमेंट के बाद बच्चों की शादी और घर बनाने में सारा पैसा खर्च कर दिया। इसी दौरान उनकी पत्नी गुजर गई। बुढ़ापे में बच्चों की जरूरत पड़ी तो दोनों बेटों ने साथ छोड़ दिया। इसके बाद वे खुद ओल्ड एज होम चले आए। यमुनानगर में रहने वाले सतीश कुमार (62) का बेटा परिवार के साथ शाहदरा, दिल्ली में रहता है। करीब 4 महीने पहले वह उन्हें यहां छोड़ गया। ओल्ड एज होम की ट्रस्टी नीलिमा मिश्रा ने बताया कि आश्रम में इस वक्त 55 बुजुर्ग रह रहे हैं। इनमें 39 महिलाएं और 16 पुरुष हैं। अधिकतर बुजुर्गों को उनके बेटे- बेटी या नजदीकी रिश्तेदार ही छोड़कर गए हैं। खास बात यह है कि इनमें से कोई भी गरीब परिवार से नहीं है।


17. एसएसपी करते रहे डमी लूट की मॉकड्रिल, असली लुटेरे स्वीकारते रहे चेलेंज

ग्रेटर नोएडा: गौतमबुद्ध नगर एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा शुक्रवार रात को जिले में लूट की वारदात से निपटने लिए मॉकड्रिल कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहे। इसी दौरान बदमाश विभिन्न थाना क्षेत्रों में एक के बाद एक लूट की वारदात करते रहे। एसएसपी रात लगभग 3 बजे मॉकड्रिल पूरी कर घर चले गए, लेकिन लुटेरे अपने काम में जुटे रहे।

कासना कोतवाली क्षेत्र में गोल्ड जिम के पास बाइक लूटने की घटना से शुरू हुआ लूटपाट का दौर शनिवार दोपहर तक जारी रहा। इस बीच बदमाशों ने कासना, सूरजपुर, नॉलेज पार्क समेत कई थाना क्षेत्रों में बाइक, नकदी और कार लूटने की कई वारदात कीं।

शुक्रवार दोपहर लगभग 3 बजे गोल्ड जिम के पास दो बाइक से आए चार बदमाशों ने एक टीचर से अपाचे बाइक लूट ली। इसकी सूचना के बाद एसएसपी ने नोएडा के विभिन्न थाना क्षेत्रों में फर्जी लूट की सूचना देकर पुलिस की मुस्तैदी चेक करने के लिए मॉकड्रिल शुरू की। इस दौरान बदमाश ग्रेटर नोएडा में ताबड़तोड़ वारदात करते रहे। ग्रेटर नोएडा पहुंचे एसएसपी ने रात करीब 1 बजे ऐच्छर गोलचक्कर के पास कासना कोतवाली पुलिस को लूट की सूचना दी। कासना कोतवाली प्रभारी आजाद तोमर ने बताया कि लूट की सूचना के कुछ ही मिनट में पुलिस मौके पर पहुंच गई। इसके बाद एसएसपी नोएडा ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे के रास्ते घर चले गए, लेकिन लूट का सिलसिला जारी रहा।

बुलट और टीचर से बाइक लूटी

ग्रेटर नोएडा के जेपी स्कूल में टीचर दिल्ली के प्रकाश राय शुक्रवार दोपहर स्कूल से घर लौट रहे थे। पी-3 गोल चक्कर से नोएडा एक्सप्रेस-वे की ओर चलने पर बदमाशों ने उन्हें रोककर मारपीट की। बदमाश उनकी अपाचे बाइक लेकर फरार हो गए। मारपीट में उनकी आंख पर गंभीर चोट आई है। इसके बाद बदमाशों ने चाई सेक्टर के पास राहुल से मारपीट कर उसकी बुलेट मोटरसाइकिल लूट ली। पीड़ितों ने मामले की शिकायत कासना पुलिस से की।

बच्ची को गोली मारने की धमकी देकर कार लूटने की कोशिश

कासना कोतवाली क्षेत्र में शुक्रवार शाम पांच से सात बजे के बीच दो बाइक पर सवार 4 बदमाशों ने बच्ची को गोली मारने की धमकी देकर कार लूटने का प्रयास किया था। पुलिस अब तक बदमाशों को नहीं पकड़ सकी है।

युवक से 15 हजार लूटे

सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र के नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर रात लगभग 9 बजे सेक्टर-144 में दो बाइक पर सवार चार बदमाशों ने विनोद नाम के युवक को रास्ता पूछने के बहाने रोक लिया। इसके बाद उससे 15 हजार रुपये लूट लिए। बदमाश मोटरसाइकिल भी लूटने वाले थे लेकिन युवक के शोर मचाने पर भाग गए।

नॉलेज पार्क में स्कूटी लूटी

नोएडा के राजा यादव नॉलेज पार्क स्थित एक कॉलेज में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं। शुक्रवार रात 9 बजे वह नॉलेज पार्क से नोएडा के लिए निकले। नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर दो बाइक से आए चार बदमाशों ने ओवरटेक कर उन्हें रोक लिया और स्कूटी लूट ली। कुछ देर बाद कार से जा रहे युवकों ने राजा को रोते देखा तो उससे बात की। युवकों के पीछा करने पर बदमाश एक्सप्रेसवे पर स्कूटी छोड़कर भाग निकले।

ईको कार लूटी

दादरी कोतवाली क्षेत्र के निर्माणाधीन बाईपास पर 4 लोगों ने टैक्सी चालक से ईको कार लूट ली। इसके बाद मारपीट कर उसे जंगल में फेंक कर फरार हो गए। दिल्ली के उस्मानपुर में रहने वाले रविंद्र शर्मा किराए पर टैक्सी चलाते हैं। शुक्रवार रात को 4 लोगों ने पुरानी दिल्ली से नोएडा-सेक्टर 37 के लिए टैक्सी बुक की। बहाना करके वे दादरी इलाके में ले गए और गन पॉइंट पर कार लूट ली। दादरी पुलिस सीओ सुमित कुमार ने बताया कि यह मामला दादरी कोतवाली क्षेत्र का नहीं है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

फील्ड ऑफिसर से 31 मोबाइल व 20 हजार लूटे

कासना कोतवाली क्षेत्र में ऐच्छर मार्केट के पास शनिवार दोपहर बदमाशों ने जियो कंपनी के फील्ड ऑफिसर हरिओम से मारपीट कर जियो के 31 मोबाइल और 20 हजार रुपये लूट लिए। मौके पर पहुंची पुलिस ने बदमाशों की तलाश की, लेकिन कुछ पता नहीं चला। पीड़ित ने लूटपाट की तहरीर कासना पुलिस को दी है।

कार के शीशे तोड़कर लूटी नकदी

ईकोटेक-3 कोतवाली क्षेत्र के खेड़ा चौगानपुर गोलचक्कर के पास बाइक सवार बदमाशों ने शनिवार को खेड़ी गांव के रहने वाले संजीव की कार का शीशा तोड़कर नकदी लूट ली। बदमाशों ने कार लूटने का भी प्रयास किया। भीड़ जुटने पर बदामश बाइक छोड़कर फरार हो गए। बाइक की जांच से पता चला कि बदमाशों पर पहले भी लूट के मामले दर्ज हैं।


18. प्रदेश में लगाएंगे 10 हजार करोड़ की परियोजनाएं

नोएडा: प्रदेश में अगले कुछ समय में 10 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाएं लगाई जाएंगी। मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय के साथ हुई मीटिंग में 25 उद्यमियों ने अपनी समस्याएं बताने के साथ ही नए प्रॉजेक्ट शुरू करने की भी घोषणा की। मुख्य सचिव ने अफसरों को निर्देश दिया कि वे उद्यमियों की शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाएं।

सेक्टर-38 स्थित गोल्फ कोर्स में हुई बैठक में गिनी-चुनी यूनिटों के प्रमुखों को बुलाया गया था। मुख्य सचिव के साथ आए अफसरों के प्रतिनिधिमंडल ने एक-एक कर सभी उद्यमियों से प्रदेश में निवेश बढ़ाने के तरीके पूछे। उद्यमियों ने भूमि आवंटन में देरी, बिजली-पानी के कनेक्शन में लाल फीताशाही और अन्य विभागों की बेरुखी को निवेश में सबसे बड़ी रुकावट बताया। कहा कि यदि ये बाधाएं हट जाएं तो प्रदेश में 10 हजार करोड़ रुपये तक का निवेश करने के लिए वे तैयार हैं। उद्यमियों की बात सुनने के बाद मुख्य सचिव ने अफसरों को निर्देश दिया कि वे निवेशकों से व्यक्तिगत तौर पर संपर्क साधकर उनको सरकार की मौजूदा नीतियों के तहत उपलब्ध सुविधाओं का लाभ दिलाएं।

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि उद्यमियों की समस्याओं का निराकरण करवाकर उसकी सूचना फोन के जरिए उन्हें देने की व्यवस्था की जाए। इस मौके पर अपर मुख्य सचिव आलोक सिन्हा, प्रमुख सचिव अवस्थापना व औद्योगिक विकास राजेश कुमार सिंह, सचिव अवस्थापना व औद्योगिक विकास संतोष कुमार यादव, नोएडा प्राधिकरण के सीईओ आलोक टंडन, ग्रेटर नोएडा के सीईओ पार्थ सारथी सेन शर्मा, यमुना प्राधिकरण के डॉ. अरुण वीर सिंह, जिलाधिकारी बी एन सिंह और एसएसपी डॉ. अजय पाल शर्मा मौजूद रहे।


19. बीजेपी की अटल अस्थि कलश यात्रा संपन्न, नहीं उमड़ी ज्यादा भीड़

नोएडा: दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलशयात्रा शनिवार को शहर में संपन्न हो गई। शहर के अलग- अलग हिस्सों में निकाली गई यात्रा में लोगों ने अटल के चित्र पर फूल चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। हालांकि इस दौरान उम्मीद के मुताबिक भीड़ नहीं दिखी, जिससे बीजेपी के कई नेता निराश दिखे।

सेक्टर-38 स्थित हाइडिल गेस्ट हाउस पर सुबह 10 बजे शुरू हुई अटल अस्थि कलशयात्रा के लिए एक टेंपो में अटल का चित्र और अस्थियां रखी हुई थीं। इस टेंपो में केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा, प्रदेश के खाद्य रसद आपूर्ति राज्य मंत्री अतुल गर्ग, नोएडा विधायक पंकज सिंह, बीजेपी प्रदेश संगठन मंत्री देवेंद्र चौधरी और नोएडा महानगर संगठन अध्यक्ष राकेश शर्मा सवार रहे। बाकी लोग अपने-अपने वाहनों में यात्रा के साथ चल रहे थे। करीब 25-30 गाड़ियों का काफिला सेक्टर-37, बॉटनिकल गार्डन, अट्टा, सेक्टर-16, 12-22, 53, गिझौड़, होशियारपुर, बसई, पर्थला गोलचक्कर से होते हुए तिगरी गोलचक्कर पर पहुंचा। यहां गाजियाबाद के महानगर अध्यक्ष मानसिंह गोस्वामी को अस्थि कलश यात्रा सुपुर्द की गई।

करीब दो घंटे की इस पूरी यात्रा में 150- 200 लोग ही दिखाई दिए। इनमें भी अधिकतर भाजपाई शामिल रहे। आम लोगों में से अधिकतर को न तो यात्रा की जानकारी थी और न ही उन्होंने खास दिलचस्पी दिखाई। हालांकि महानगर अध्यक्ष राकेश शर्मा ने लोगों की कम संख्या से इनकार किया। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के मुताबिक सभी लोगों को यात्रा में शामिल नहीं होना था। इसके बजाय वे अधिकतर जगह रास्ते में खड़े थे और वहीं से अस्थि कलश यात्रा पर फूल बरसा रहे थे। इसके चलते काफिले में ज्यादा लोग नजर नहीं आए।

SHARE
Previous articleNew Update 2018 Google Adsense Terms And Conditions In Hindi
Next articleMumbai Ke Bare Me Rochak Jankari Or Ghumne Ka Jagah
admin
Top News In Hindi:- यहाँ पर आपको टॉप Trending Entertainment, World's News, National, Sports and Health Tips न्यूज़ हिंदी लैंग्वेज में मेलिगी अगर आप टॉप Bollywood,Hollywood, latest Music न्यूज़ हिंदी में पढ़ना चाहते है और देश और दुनियां की रोचक जानकारिओं से जुड़े रहना चाहते है तो हमारी वेबसाइट पर बने रहिये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here