चीता और तेंदुआ में क्या फर्क है, शेर और बाघ कैसे अलग हैं?

0
74

बाघ, शेर, तेंदुआ और चीते को पहचानने में हम अक्सर गलती कर जाते हैं। यहां तक कि बड़े बड़े मीडिया संस्थानों के पत्रकार भी अपनी खबरों में बाघ को शेर बना देते हैं और तेंदुए को चीता। जबकि बिल्ली प्रजाति के होते हुए भी चारों में बहुत अंतर है। यहां हम आपको इसी अंतर के बारे में बताने जा रहे हैं, ताकि आप बाघ को शेर न बनाएं।

ये बिल्ली की प्रजाति के सबसे बड़े जानवर हैं इसलिए इन्हें बड़ी बिल्लियाँ भी कहा जाता है. आज हम इस पोस्ट में बाघ, शेर, चीता और तेंदुए को ले कर जो आपको कन्फ्यूजन है उसे दूर करने वाले हैं.

1. शेर (Lion):

शेर को जंगल का राजा कहा जाता है. शेर की पहचान बेहद आसान है. इसके गले में बालों का एक बड़ा घेरा होता है, जिसे इसके मुकुट के तौर पर भी देखा जाता है. इनके शरीर पर किसी तरह की धारियां नहीं होतीं. ये हल्के या गहरे भूर रंग में होते हैं. शेर की दहाड़ सबसे ज्यादा तेज होती है.

2. बाघ (Tiger):

बाघ को पहचानना भी बेहद आसान है. बाघ के शरीर ऑरेंज रंग का होता है, जिस पर काले रंग की धारियां होती हैं. साथ ही इसका गले से लेकर नीचे तक का हिस्सा कई जगह से सफेद रहता है. शारीरिक बनावट में बाघ शेर के मुकाबले काफी लंबे और वजनी होते हैं.

3. चीता (Cheetah):

सबसे बड़ा और सबसे ज्यादा कन्फ्यूजन होता है चीते और तेंदुए को पहचानने में. ये दोनों लगभग एक से दिखते हैं. चीता आकार में तेंदुए की तुलना में छोटा होता है.

दोनों में सबसे बड़ा अंतर यह है कि चीता दहाड़ नहीं सकता जबकि तेंदुआ दहाड़ता है. दुनिया के इस सबसे तेज जानवर की आंखों से मुंह तक गहरी काली रेखाएं होती हैं. चीते का चेहरा बिल्ली प्रजाति के अन्य जीवों का तुलना में छोटा होता है. इसके शरीर पर काफी महीन काले रंग के स्पॉट होते हैं.

4. तेंदुआ (Leopard):

जबकि चीता बरसों पहले भारत से खत्म हो चुके हैं. तेंदुए के शरीर पर छोटे छोटे काले रंग के स्पॉट होते हैं. चीते की तुलना में इसकी कदकाठी भारी होती है. हालांकि, इसका आकार बाघ और शेर के मुकाबले छोटा होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here