गैस और कब्ज का इलाज? Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare

0
198
Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare
Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare

Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare:  Kabj Gas होने पर हमें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare इसके कारण हम comfortable feel नहीं करते और किसी भी काम में हमारा मन नहीं लगता। ऐसे कई आयुर्वेदिक उपाय हैं जिनको अपनाकर पाचन तंत्र की कार्य क्षमता को बढ़ाया जा सकता है और कब्ज से छुटकारा पाया जा सकता है। यह उपाय अपनाना काफी सरल है Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare और यह काफी फायदेमंद भी होते हैं। Kabj (constipation) एक बहुत ही common digestive disorder है जो किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकता है। कब्ज के कारण मल त्यागने में परेशानी होती है और मल त्यागने के लिए व्यक्ति को काफी जोर लगाना पड़ता है।

Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare

1. Milk And Ghee (दूध और घी)

Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare, Image result for Milk And Ghee

सोने के समय एक कप गर्म दूध में घी के एक या दो चम्मच घी लेना कब्ज से मुक्त होने का एक प्रभावी और सौम्य माध्यम है।

2. Roasted Fennel Seeds (भुना हुआ सौंफ़)

Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare, Image result for Roasted Fennel Seeds

एक गिलास गर्म पानी के साथ सोने के समय भुना हुआ सौंफ़ बीज का एक चम्मच हल्के रेचक के रूप में कार्य कर सकता है। सौंफ़ के बीज में पाए जाने वाले अस्थिर तेल गैस्ट्रिक एंजाइमों के उत्पादन को बढ़ावा देने के द्वारा पाचन शुरू करने में मदद कर सकते हैं।

Must Read:- Body Ke Liye Lahsun Ke Kya Fayde Hai

3. Liquorice Root (मुलेठी की जड़)

Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare, Image result for Liquorice Root

लाइकोरिस रूट पाउडर का एक चम्मच लें। गुड़ का एक चम्मच जोड़ें और इसे एक कप गर्म पानी के साथ पीएं। लीकोरिस (मुलेथी) आपकी आंत्र गतिविधि को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है। हालांकि, यह सलाह दी जाती है कि आप इसे नियमित रूप से लेने से पहले आयुर्वेदिक विशेषज्ञ से परामर्श लें।

4. Triphala (त्रिफला)

Kabj Gas Ko Jad Se Khatam Kaise Kare, Image result for Triphala

सबसे भरोसेमंद और सबसे प्रभावी उपचारों में से एक टर्मिनलियाचेबुला या त्रिफला है। यह एक फल है जो कब्ज का इलाज करने में मदद करता है। आप त्रिफला चाय ले सकते हैं या इसके चम्मच का एक चौथाई हिस्सा, धनिया के आधे चम्मच और इलायची के बीज के एक चौथाई चम्मच ले सकते हैं। उन्हें पीसकर दिन में दो बार लें। त्रिफला में ग्लाइकोसाइड होता है जिसमें रेचक गुण होते हैं। इलायची और धनिया के बीज पेट फूलना और अपमान से छुटकारा पाने में मदद करते हैं।

Must Read:- Body Ke Liye Lahsun Ke Kya Fayde Hai

Note: कब्‍ज की समस्‍या से बचने के लिए नियमित रूप से व्‍यायाम और योगा करना चाहिए। गरिष्‍ठ भोजन करने से बचें। इन नुस्‍खों को प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य लें। अपनाने के बाद भी अगर पेट की बीमारी ठीक नही होती तो चिकित्‍सक से संपर्क अवश्‍य कीजिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here