Seo Or Smo Hota Kya Hai Kaise karte Hai | Keywords Meaning

SEO होता क्या है और SMO होता क्या है? कैसे करे पूरी जानकारी: SEO का फुलफॉर्म – सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (Search Engine Optimization). यह प्रक्रिया वेबसाइट मालिकों दूवारा उपयोग की जाती है । Webpages को rank करने में मदद करने के लिए, Search Engine पर खोज को सरल बनाने के लिए, प्रतियोगियों की वेबसाइटों से ऊपर रैंक लाने के लिए इस तकनीक का उपयोग किया जाता है। जबकि कई Search Engine हैं जिन पर आप रैंक कर सकते हैं, जिसमें बिंग और याहू शामिल हैं, अधिकांश इंटरनेट सर्च (80%) Google के माध्यम से किया जाता है। नतीजा, आप जिस SEO युक्तियों को पार करेंगे, वे Google द्वारा देखी गई और रैंकिंग की दिशा में तैयार हैं।

सोशल मीडिया ऑप्टिमाइज़ेशन (SMO) आपके इंटरनेट search ranking में एक महत्वपूर्ण कारक है। इस रणनीति को अक्सर कई कंपनियों द्वारा अनदेखा किया जाता है, भले ही यह search रैंकिंग में आपकी स्थिति बढ़ाने में मदद कर सके। Social Media में, आपके लिए Customized करने के लिए दो महत्वपूर्ण search engine हैं:

1. प्रत्येक सोशल नेटवर्क के भीतर search function

2. Google search

SEO Hota Kya Hai Kaise karte Hai

SEO Hota Kya Hai Kaise karte Hai, Image result for SEO

आज कल SEO अधिक शामिल हो गया है क्योंकि Search Engine ने sites को rank करने के तरीके के बारे में और पहलुओं को विकसित किया है। उदाहरण के लिए, शुरुआती दिनों में, URL के हिस्से के रूप में पेज का नाम रखने के लिए रैंकिंग की बाधाओं में वृद्धि हुई थी। जैसे-जैसे इंटरनेट बढ़ता गया, आदेश और विश्वसनीय परिणाम लाने में और मुश्किल हो गई।

Google विशेष रूप से यह लड़ाई लड़ रहा है, ताकि सही परिणाम ही दिखाए जाये खोज कर्ताओ को, जो web searchers के लिए अच्छा है, लेकिन वेबसाइट मालिकों के लिए अधिक कठिन है।

Must Read:- Best Topics To Start New Blog in 2018

आज, यह समझकर कि Google क्या करता है और चाहता है, आपके SEO को बेहतर बनाने के लिए एक लंबा रास्ता तय कर सकता है। Google आपकी साइट को रैंक करने के लिए क्या देखता है इसकी बुनियादी सूची यहां दी गई है।

कितने वक़्त से आप Online मौजूद है:

नई sites में SEO तकनीक का इस्तेमाल करना एक कठिन कार्य है क्योंकि बहुत प्रतिस्पर्धा है और Google New sites के बजाये पुरानी साइटों का पक्ष लेता है।

1. कीवर्ड क्या है? (Keywords Meaning In Hindi)

जब search engine आपकी साइट पर जाते हैं तो वे पृष्ठ सामग्री और मेटा जानकारी को देखते है कि यह क्या है। जब लोग इन कीवर्ड का उपयोग (खोज शब्दों) को अपने इंजन में उपयोग करते हैं, तो वे परिणामस्वरूप आपके पृष्ठ को distributed करना जानते हैं। इसका मतलब यह है कि आपके लिए यह जानना महत्वपूर्ण है की खोज इंजन पर कौन से शब्दों और वाक्यांशों का उपयोग लोग करेंगे। आप खोज शब्द अनुसंधान (keyword analysis) के माध्यम से ऐसा पता कर सकते हैं। यदि कोई keyword बहुत बार आता है, तो शब्द के विविधता का उपयोग करने पर विचार करें।

2. Outgoing link

खोज इंजन अन्य साइटों के लिंक के साथ-साथ आपकी साइट के भीतर लिंक देखना पसंद करते हैं (यानी अपनी साइट पर अन्य सामग्री से लिंक करना)।

3. Incoming links

ये आपकी वेबसाइट के अन्य साइटों से लिंक हैं। सोशल मीडिया इस में बहुत उपयोगी हो सकता है, लेकिन साथ ही, आपकी सामग्री से जुड़ी अन्य गुणवत्ता वाली साइटें आपकी रैंकिंग में सुधार करने का एक लंबा सफर तय करती हैं। खोज इंजन आपके द्वारा रखी गई कंपनी द्वारा आपका निर्णय लेंगे, इसलिए आपका लक्ष्य outgoing और incoming links पर होना चाहिए।

4 Responsive web design

चूंकि आजकल बहुत से लोग ऑनलाइन के लिए फोन या tablet का उपयोग करते हैं, इसलिए Google ने अब साइट के रैंकिंग के दौरान देखे जाने वाले पहलुओं में से एक के रूप में मोबाइल-फ्रेंडली वेबसाइट का होना भी शामिल किया है।

Must Read:- Top 10 Online Paise Kamane ke Tarike

5. SEO के लिए Top 10 Tips:     

अब जब आप अपनी साइट को इंडेक्स और रैंक करने का निर्णय लेते समय कुछ seach enginesपर विचार करते हैं, तो ट्रैफिक और मुनाफे को बढ़ावा देने के लिए अपनी खोज इंजन रैंकिंग में सुधार करने के लिए यहां 10 कार्य हैं जो आपको करना जरुरी है –

Tips 1: सही keywords का चयन करें।

Tips 2: सही domain name का चयन करें।

Tips 3: File names और folders में keywords का प्रयोग करें।

Tips 4: अपने पेज शीर्षक में अपने keywords का प्रयोग करें।

Tips 5: अपने navigation में keywords पाठ का प्रयोग करें।

Tips 6: उपयोगी keywords सामग्री बनाएँ – और दोहराये।

Tips 7: अपने Meta विवरण का keywords को हिस्सा बनाओ।

Tips 8: उच्च गुणवत्ता वाली incoming links सुरक्षित करे।

Tips 9: अपने लिंक में keyword text का उपयोग करें, click here का उपयोग नहीं करे।

Tips 10: एक site map बनाएँ।

इन सभी tips का उपयोग सही तरह से करने के लिए आप खुद ही YouTube Videos देखकर या Blog Tutorials पढ़कर जानकारी प्राप्त कर सकते है और अपनी website के लिए step-by-step उपयोग कर सकते है। खुद से SEO सीखना भी एक बहुत ही महत्वपूर्ण और सरल प्रक्रिया हैं।

SMO Hota Kya Hai Kaise karte Hai

जब आप search environment के लिए Optimize करते हैं, तो कुछ लाभ होते हैं – जैसे की लोगो को आपकी प्रोफ़ाइल ढूंढने में, आपके साथ जुड़ने में और अपनी वेबसाइट पर अधिक से अधिक लोगो को पहुंचने के लिए, आपकी प्रोफ़ाइल से आपकी वेबसाइट पर point करती हुई एक लिंक से भी लाभ मिल सकता है। तो आज हम आपको DIY(Do it yourself) SMO तकनीक के बारे में बताएँगे कुछ instant सुझाव नीचे दिए गए हैं|

1. अपनी वेबसाइट में सामाजिक alignment करें:

सोशल sharing tool को आपकी Site में शामिल करे। अपनी Social media channel को सीधे अपनी website से और अपनी Social profile से सीधे अपनी वेबसाइट पर web link शामिल करें। आप अलग-अलग ब्लॉग पोस्ट में सोशल मीडिया शेयरिंग बटन भी जोड़ सकते हैं।

सोशल मीडिया पर लिंक अक्सर उच्च गुणवत्ता वाले लिंक माना जाता है क्योंकि सामाजिक साइटों के पास उच्च वेब authority होता है जिसका हमे SMO में काफी फ़ायदा मिलेगा।

2. SMO में consistency कुंजी है:

अपनी social profile बनाना एक साधारण काम की तरह लगता है, फिर भी यहाँ से बिज़नेस लाना एक कठिन कार्य है। Profile जानकारी 100% भरें। Search इंजन उन्हें प्राथमिकता ज्यादा  देते है जिनकी प्रोफाइल में सारे जानकारी अंकित है। ध्यान रखे आपकी सोशल प्रोफाइल में सभी संपर्क जानकारी बिल्कुल वही होनी चाहिए जितनी आपकी वेबसाइट पर हैं।

3. SEO Keyword और Social Media साथ रखे:

यदि आप अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल के संपर्क को अधिक लोगो से जोड़ना चाहते है, तो keyword बहुत ही मजबूत भूमिका निभाते हैं। वास्तव में, यदि आप अपनी प्रोफाइल को सही तरीके से optimise नहीं कर रहे हैं, तो आप अपने प्रतिस्पर्धियों के लिए टेबल पर पैसे छोड़ रहे हैं। यदि आप अपने प्रोफाइल या पेज नाम में अपने Keyword का प्रभावी ढंग से उपयोग कर सकते हैं, तो यह Google पर Keyword search और social network search में बेहतर रैंक करने में मदद करेगा।

4. अपने social post में keywords का प्रयोग करें:

Keywords आपकी वेबसाइट, ब्लॉग सामग्री और विज्ञापन अभियानों के लिए महत्वपूर्ण हैं। यह आपकी सामग्री को आपके target दर्शकों तक पहुंचने में मदद करता है ।

5. सोशल मीडिया पर सोशल बनें:

सोशल बनाने का आसान जरिया है सोशल मीडिया। सामाजिक संकेत SEO में एक महत्वपूर्ण कारक हैं क्योंकि search engine सामाजिक संकेतों और कारक को देखते हैं कि आप कितनी बार पोस्ट कर रहे हैं, कितने लोग आपसे बातचीत करते हैं, और वेबसाइट visitors के लिए सामाजिक sharing elements उपलब्ध हैं की नहीं । ब्रांड अक्सर भूल जाते हैं कि इन प्लेटफार्मों का उद्देश्य संबंध बनाना है। अपनी वेबसाइट और अन्य relevant साइटों दोनों से उपयोगी सामग्री share करें।

Must Read:- 10 Din Me Google Adsense Account Approve Kaise Kare

6. ब्रांडेड cover Images का प्रयोग करें

Social media पर कवर छवि आम तौर पर पहली बार उपयोगकर्ता द्वारा देखी जाती है जब वह आपके पृष्ठ पर जाता है, और आप उन्हें एक अच्छा प्रभाव देना चाहते हैं। इस अवसर का उपयोग अपने अपने वर्तमान और भावी ग्राहकों को ब्रांड मैसेजिंग को व्यक्त करने के लिए करें। प्रत्येक प्लेटफ़ॉर्म के लिए दी गयी guidelines के अनुसार, यह सुनिश्चित करें कि आपकी कवर छवि स्वरूपित और सही तरीके से प्रदर्शित की गई है, और हमेशा professional और यादगार पेशेवर छवियों का उपयोग करें। छवियों बनाने के लिए canva जैसे tool का उपयोग कर, आप सुन्दर आसान cover इमेजेज बना सकते है ।

Conclusion:

दोस्तों, तो ये था SEO और SMO techniques जिसे आप आसानी से अपना सकते है। हमारे पोस्ट के प्रति अपनी प्रसन्नता और उत्त्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here