पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ बताया है|

अमृतसर में रविवार को हुए ग्रेनेड अटैक में तीन लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ बताया है. उन्होंने कहा है कि इस हमले में जिस ग्रेनेड का इस्तेमाल हुआ मेड इन पाकिस्तान था. पंजाब के मुख्यमंत्री ने इसके लिए पाकिस्तान की आईएसआई को जिम्मेदार ठहराया.

उन्होंने कहा कि इस हमले का मास्टर माइंड पाकिस्तान की आईएसआई एजेंसी है. यहां शांति भंग करना पाकिस्तान का एजेंडा है. साथ ही मुख्यमंत्री ने बताया की एक शख्स को इस हमले से जुड़े होने के शक में गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा, पुलिस ने हमले से जुड़े दो में से एक शख्स को पकड़ लिया है. 26 साल के बिक्रमजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है. दूसरे शख्स को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. उसका नाम अवतार सिंह है.

इससे पहले पंजाब सीएम ने इस मामले को लेकर कहा था कि यह साफ तौर पर आतंकवाद का मामला है. उन्होंने कहा था कि इस घटना पर एक जांच चल रही है. घटना से जुड़े कुछ लीड मिले हैं, जिन पर पुलिस काम कर रही है.

जांच में ये बात सामने आई थी कि हमले में जिस ग्रेनेड का हमलावरों ने इस्तेमाल किया था. वो HE-36 सीरीज का है. इस सीरीज के ग्रेनेड का इस्तेमाल पाकिस्तानी फौज के जरिए किए जाते हैं. गौरतलब है कि 18 नवंबर को अमृतसर के राजासांसी गांव स्थित निरंकारी भवन में ग्रेनेड अटैक हुआ था. इस धमाके में वहां धार्मिक समागम में मौजूद 250 लोगों में से 3 लोगों की मौत हो गई जबकि 20 लोग घायल हुए थे.

चश्मदीदों ने बताया था कि मोटरसाइकल सवार 2 लोग आए और उन्होंने धार्मिक डेरे में विस्फोटक फेंका और फरार हो गए. उन्होंने कहा कि हमलावरों ने भागने के क्रम में उन्हें पिस्तौल दिखाकर डराने की भी कोशिश की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here