उपचुनाव की अग्निपरीक्षा: समझें 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों का समीकरण

0
82

उपचुनाव की अग्निपरीक्षा: देश के 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं. इनमें यूपी के कैराना लोकसभा और नुरपुर विधानसभा सीटें भी शामिल हैं. इन उपचुनाव को 2019 का सेमीफाइनल माना जा रहा है. समझें इन सीटों का समीकरण और तमाम दलों के लिए 2019 से पहले कितनी अहम हैं इन सीटों पर जीत.

कैराना लोकसभा सीट

  •  बीजेपी प्रत्याशी मृगांका सिंह और आरएलडी से विपक्ष की संयुक्त उम्मीदवार तबस्सुम हसन मैदान में है. ये सीट बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के निधन के चलते रिक्त हुई है.

महाराष्ट्र के भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीट

  • कुल 18 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, लेकिन मुख्य मुकाबला बीजेपी के हेमंत पटले और एनसीपी के मधुकरराव कुकड़े के बीच है. शिवसेना और कांग्रेस ने उपचुनाव में अपना कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है. बीजेपी सांसद नाना पटोले के सत्तारूढ़ दल से इस्तीफा देकर कांग्रेस में शामिल होने के चलते उपचुनाव हो रहा है.

पालघर लोकसभा सीट

  • शिवसेना ने जहां बीजेपी के दिवंगत सांसद चिंतामन वांगा के बेटे श्रीनिवास वांगा को पालघर से मैदान में उतारा है वहीं बीजेपी ने हाल ही में कांग्रेस छोड़ कर पार्टी में आने वाले राजेन्द्र गावित को अपना उम्मीदवार बनाया है. जबकि कांग्रेस दामोदर शिंगडा मैदान में हैं. पालघर से सात प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. बीजेपी सांसद चिंतामन वांगा के निधन के चलते उपचुनाव हो रहे हैं.

नगालैंड लोकसभा सीट

  • पीडीए के तोखेहो येपथेमी और एनपीएफ उम्मीदवार सी अपोक जमीर के बीच मुकाबला है. बीजेपी पीडीए को और कांग्रेस एनपीएफ को समर्थन कर रही है. ये सीट नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोगेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के नेता नेफ्यू रियो सीएम बन जाने के बाद उन्होंने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा की वजह से इस्तीफा.

10 विधानसभा सीट पर हो रहे हैं उपचुनाव

नूरपुर (यूपी)- इस सीट पर 10 उम्मीदवार हैं, लेकिन बीजेपी के अवनी सिंह और सपा नईम-उल-हसन के बीच कांटे की टक्कर है. ये सीट बीजेपी के लोकेंद्र सिंह चौहान के निधन की वजह से यह सीट खाली हुई है.

जोकीहाट (बिहार)- जोकीहाट विधानसभा से कुल नौ प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, लेकिन मुख्य मुकाबला आरजेडी के शाहनवाज आलम और जेडीयू के मुर्शीद आलम बीच है. ये सीट जेडीयू विधायक सरफराज आलम ने इस सीट से इस्तीफा देकर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) का दामन थाम लिया था और उनके आरजेडी के टिकट पर अररिया के सांसद चुने जाने के बाद यह सीट खाली हो गई थी.

थाराली (उत्तराखंड)- बीजेपी के मुन्नी देवी और कांग्रेस के पूर्व विधायक जीतराम के बीच मुकाबला है. ये सीट चमोली जिले की थराली विधानसभा सीट बीजेपी विधायक मगन लाल शाह के निधन के बाद खाली हुई थी.

महेश्ताला (पश्चिम बंगाल)- टीएमसी के दुलाल दास, बीजेपी ने सीबीआई के पूर्व संयुक्त निदेशक सुजीत घोष और वाम मोर्चे की ओर प्रभात चौधरी मैदान में है. ये सीट टीएसपी के विधायक कस्तूरी दास के निधन के चलते रिक्त हुई है.

अम्पाती (मेघालय). कांग्रेस की मियानी डी शिरा और मेघायल डेमोक्रेटिक गठबंधन के क्लेमेंट जी मोमिन के बीच मुकाबला है. मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा के इस सीट को छोड़ने के कारण यहां उपचुनाव कराये जा रहे हैं.

शाहकोट (पंजाब)- कांग्रेस के हरदेव सिंह लाडी, अकाली दल के नायब सिंह कोहाड़ और आम आदमी पार्टी के रतन सिंह कक्कड़ कलां के बीच कांटे की लड़ाई है. आकाली दल के विधायक कोहाड़ का निधन हो जाने के चलते उपचुनाव हो रहा है.

गोमिया (झारखंड)- इस सीट पर 13 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. गोमिया से विधायक योगेन्द्र प्रसाद को कोयला चोरी में दोषी पाया गया था. जिसमें अदालत ने उन्हें तीन साल की सजा सुनाई थी. इसी वजह से उपचुनाव हो रहे हैं.

सिल्ली (झारखंड)- इस सीट पर मुख्य मुकाबला पूर्व उप मुख्यमंत्री और एजेएसयू अध्यक्ष सुदेश महतो और सीमा महतो के बीच है. सिल्ली विधायक अमित महतो को सीओ के साथ मारपीट के मामले में दोषी पाए जाने पर उन्हें 2 साल के कारावास की सजा सुनाई गयी थी. इसी के चलते उपचुनाव हो रहे हैं.

चेंगन्नुर (केरल)- सीपीएम के एस चेरियां, कांग्रेस के डी विजय कुमार और  बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पी.एस. श्रीधरन पिल्लई के बीच मुकाबला है. सीपीएम विधायक के के रामचंद्र के निधन की वजह से उपचुनाव हो रहा है.

राजाराजेश्वरी नगर (कर्नाटक)- कांग्रेस से मुनीरत्ना, बीजेपी के मुनिराजू गौड़ा और जीएस रामचंद्र के बीच मुकाबला है. राजाराजेश्वरी नगर सीट पर चुनाव प्रचार के दौरान फर्जी मतपत्र मिलने की शिकायत के कारण मतदान रद्द हो गया था. आज मतदान हो रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here