शाह-उद्धव की बैठक में नहीं बनी बात, शिवसेना बोली 2019 में अकेले लड़ेंगे चुनाव

0
77

2019 लोकसभा चुनाव से पहले अपने सहयोगियों को साधने में जुटी भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है. ‘संपर्क फॉर समर्थन’ के तहत बुधवार शाम बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मुंबई के मातोश्री में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी. लेकिन मुलाकात के अगले ही दिन शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि हम 2019 में अकेले ही चुनाव लड़ेंगे. संजय राउत ने गुरुवार को कहा हम लोग अमित शाह जी का एजेंडा जानते हैं लेकिन शिवसेना ने पहले ही प्रस्ताव पास कर लिया है. जिसमें ये तय हो गया है कि शिवसेना 2019 का लोकसभा चुनाव अकेले ही लड़ेगी. हमारे प्रस्ताव में कोई बदलाव नहीं होगा.

  • बता दें कि महाराष्ट्र के पालघर उपचुनाव को लेकर शिवसेना और बीजेपी में टकराव हुआ था उसके साथ कई अन्य मुद्दों पर गठबंधन में जिस तरह से दूरियां बढ़ी हैं. उसे पाटने के लिए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को मुंबई पहुंचे और शाम 6 बजे मातोश्री जाकर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात की.
  • ऐसा माना जा रहा था कि दोनों नेताओं के बीच आने वाले समय में कुछ मुलाकातें और हो सकती हैं. हालांकि, बुधवार को मुलाकात से पहले शिवसेना ने सामना में लिखा था कि 2019 में वे अकेले चुनाव में उतरेगी.

मुलाकात से पहले ही किया था वार

  • बता दें कि बुधवार को शाह-उद्धव की मुलाकात से पहले भी सामना के जरिए शिवसेना ने तीखा हमला बोला था. सामना में लिखा गया कि अमित शाह इन चुनावों में किसी भी तरह 350 सीटें जीतना चाहते हैं.
  • सामना में लिखा गया है कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े हुए हैं, किसान सड़क पर हैं, इसके बावजूद बीजेपी चुनाव जीतना चाहती है. शिवसेना ने कहा कि जिस तरह बीजेपी ने साम, दाम, दंड, भेद के जरिए पालघर का चुनाव जीता उसी तरह बीजेपी किसानों की हड़ताल को खत्म करना चाहती है. चुनाव जीतने की शाह की जिद को हम सलाम करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here